sarkari yojana

“Beti Bachao Beti Padhao Yojana” हिन्दी में जानकारी ?

दोस्तो आज हम Beti Bachao Beti Padhao Scheme जो कि भारत सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं में से एक है के बारे में बात करेंगे। हमारे देश भारत में कई प्रकार की ऐसी परंपराएं हैं, जो सामान्य जीवन के लिए आवश्यक मानी जाती हैं। प्राचीन भारत की बात की जाए तो बेटियों को कमत्तर ही आंका जाता रहा है। सच्चाई तो यह है कि किसी भी समाज को सही दिशा में आगे बढ़ाने के लिए बेटियों का भी अहम योगदान होता है। बेटियों को ऊर्जा का स्त्रोत माना जाता रहा है इसीलिए बेटियों के वर्चस्व को बचाए रखने के लिए “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” योजना को बल दिया गया है।

जिसके माध्यम से हमारी बेटियों को सुरक्षित किया जा सकता है और उनके भविष्य की सुरक्षा की जा सकती है।

Beti-Bachao-Beti-Padhao
Beti Bachao Beti Padhao Yojana की महत्वपूर्ण बातें

Beti Bachao Beti Padhao Yojana

क्या है “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना” – What is Beti Bachao Beti Padhao Yojana ?

यह योजना एक सरकारी योजना है जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 जनवरी 2015 में लागू किया था। इस योजना के माध्यम से बेटियों को नई दिशा देने के लिए प्रेरित किया जाता है ताकि  बेटियों को पूरे अधिकार के साथ आगे बढ़ाया जा सके। प्रधानमंत्री की इस योजना की शुरुआत 100 करोड़ रुपए राशि के साथ शुरू किया गया था। यह योजना बेटियों को भेदभाव रहित समाज देने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेगी।

क्या है इस योजना का उद्देश्य–

समाज में होने वाली गतिविधियों के माध्यम से यह देखा गया है कि समाज में बेटियां सुरक्षित नहीं है। ऐसे में उनके साथ कई प्रकार का भेदभाव भी किया जाता रहा है। कई बार बेटियों को गर्भ में ही खत्म कर दिया जाता है, जो अमानवीय और असंवैधानिक है। ऐसे में “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” योजना का उद्देश्य किसी भी प्रकार के मानसिक भेदभाव को दूर करके सभी बेटियों को सुरक्षा प्रदान करना है।

साथ ही साथ उन्हें एक विशेष स्वच्छंदता देना है, जिसके माध्यम से वे खुद में बदलाव कर खुद को ही जाहिर कर सकें।


आखिर क्यों पड़ी “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना” की आवश्यकता !


भारत जैसे विशाल देश में कई प्रकार की कुरीतियां आसानी से देखी जा सकती हैं इनमे मुख्य कुरीति है गर्भ में ही कन्या भ्रूण को खत्म कर देना। जिसकी वजह से देश में लिंगानुपात असंतुलित हो रहा है। देश के कुछ राज्यों में इस योजना को बढ़ावा दिया जा रहा है। ऐसे में इस योजना के माध्यम से होने वाले लिंगानुपात के असंतुलन को संतुलित किया जा सकता है। इस योजना के माध्यम से विकृत मानसिकता में बदलाव ला सकते हैं।

किसी भी समाज को चलाने के लिए 2 लोगों की भागीदारी होती है उन दो लोगों में बेटे और बेटी दोनों का ही महत्वपूर्ण योगदान माना जाना चाहिए। कई बार हम रूढ़िवादी सोच को अपनाते हुए बेटियों को पराया समझने लगते हैं, जो कि दकियानूसी समाज की सोच को दर्शाता है।

भारत में अक्सर बेटियों के साथ अन्याय पूर्ण व्यवहार से नुकसान देखा जाता रहा है। ऐसी सोच से बेटियों को उनका समान अधिकार मिल नहीं पाता और वह किसी अन्य व्यक्ति के अधीन रह जाती हैं। देश में बेटियों की बढ़ती दुर्दशा को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनवरी 2015 को “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” योजना का विकास किया।

इस योजना के माध्यम से बेटियों को शिक्षा का अधिकार दिया जाना सर्वोपरि माना गया है जिसके तहत बेटियां भी अपने कर्तव्यों का निर्वहन उसी प्रकार से कर सकेंगी जिस प्रकार बेटे करते हैं।

प्रधानमंत्री के अनुसार इस योजना के माध्यम से गर्भ में होने वाले भ्रूण हत्या को रोक कर समाज में बेटियों की स्थिति को सही किया जा सकता है। इस योजना से बेटियों की दयनीय स्थिति में सुधार लाकर उन्हें शिक्षा का अनोखा और खूबसूरत तोहफा दिया जा सकता है। जिससे बेटियां भी समाज में अपना मुकाम हासिल कर सकती हैं और खुद को स्थापित कर सकती हैं।

इस योजना के बाद से ही समाज में एक नई जागरूकता देखने को मिल रही है, जो इस प्रयास को सार्थक साबित कर रही है। कुछ हद तक सामान्य जीवन मे लोग बेटियों को भी उनका हक दे रहे हैं जिनकी  उन्हें आवश्यकता है।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के लिए आवेदन-

 यदि आप भी इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं, तो इसके लिए आवेदन बड़ी ही आसानी से किया जा सकता है।

1) सबसे पहले आपको अपने नजदीकी बैंक की किसी भी शाखा में जाना होगा।

2) वहां पर आपको “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना” संबंधित एप्लीकेशन फॉर्म लेना होगा।

3) एप्लीकेशन फॉर्म में निहित सभी आवश्यक जानकारी को ध्यान पूर्वक भरे।

4) फॉर्म के साथ ही जरूरी कागजात को अटैच करना होगा।

5) इस भरे हुए एप्लीकेशन फॉर्म को बैंक में ही जमा करना होगा।

कैसे  करें ऑनलाइन आवेदन-

1) सर्वप्रथम आवेदक को बाल विकास मंत्रालय की ऑफिशियल वेबसाइट wcd.nic.in  पर क्लिक करना होगा।

2) इस पेज पर “women empowerment scheme” के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

3) इसके बाद “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना” पर क्लिक करके सारी जानकारी को भरना होगा।

4)  आगे सबमिट बटन पर क्लिक करके फॉर्म को पूरा कर सकते हैं।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज–

1) बच्ची का जन्म प्रमाण पत्र

2) आधार कार्ड

3) बच्ची के माता-पिता का पहचान प्रमाण पत्र

4) बच्चे के माता-पिता का पता प्रमाण पत्र

“बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” के लिए जरूरी बातें

इस योजना का लाभ उठाने के लिए आपको कुछ जरूरी बातों का जानना आवश्यक है

1) बेटी की उम्र 18 वर्ष की होने पर 50 परसेंट की धनराशि पढ़ाई और उसकी शादी के लिए खर्च की जा सकती है।

2) इस योजना में खाते में अधिकतम ₹ डेढ़ लाख राशि जमा हो सकती है।

3) इसमें 1 वर्ष से लेकर 14 वर्ष तक धनराशि जमा की जा सकती है।

योजना से लाभ- Benefit of Beti Bachao Beti Padhao Yojana

1) इस योजना के माध्यम से समाज में जागरूकता लाई जा सकती है।

2) इसके माध्यम से लिंगानुपात में भारी गिरावट देखी जा सकती है।

3) बेटियों को भी शिक्षा का अधिकार दिलाया जा सकता है।

4) इस योजना के माध्यम से बेटियों को भी आत्मनिर्भर बनने का मौका मिलेगा।

5) इस योजना के माध्यम से बेटियों को भी वित्तीय सहायता प्राप्त हो सकती है।

6) इसके माध्यम से बेटियों के साथ होने वाला भेदभाव कम किया जा सकता है।

निष्कर्ष-

इस लेख के माध्यम से हमने जाना कि बेटी के उज्जवल भविष्य के लिए” बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना” – Beti Bachao Beti Padhao Yojana कामगार योजना है। इस योजना के माध्यम से प्रधानमंत्री द्वारा बेटियों के हित की बात समाज  के सामने रखी गई है, जो देश की हर बेटी के लिए आवश्यक है।

यह योजना समाज को एक नई दिशा की ओर अग्रसर करेगी जो देश के उज्जवल भविष्य के लिए अनिवार्य है। समाज के लोगों को भी स्वतः आगे बढ़ कर इस योजना का लाभ लेना चाहिए और देश की बेटियों को आगे बढ़ाने का पुरजोर समर्थन करना चाहिए।

FAQ’s

  • Is the beti bachao and beti padhao scheme a good initiative by Narendra Modi?

    Yes,promoting and encouraging women empowerment and girl child right is always an excellent initiative

  • What are the disadvantages of the Beti Bachao, Beti Padhao scheme?

    No, there is not any disadvantages of this scheme.One of the best step regarding saving a girl child or educating her.

  • How to apply for Beti Bachao, Beti Padhao scheme?

    बाल विकास मंत्रालय की ऑफिशियल वेबसाइट wcd.nic.in  पर क्लिक करना होगा और उपर लेख में दिये गये स्टेप को फालो करें…

Related posts

Mudra Loan Yojana Kya Hai?- प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना के बारे में जानकारी हिन्दी में

Saumya

पोक्सो एक्ट या अधिनियम (POCSO Act) क्या है? – महिला एवं बाल अपराध रोकने का कानून 2012

Saumya

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.